पोस्ट मैट्रिक छात्रवृति योजना की पूरी जानकारी 2023

पोस्ट मैट्रिक छात्रवृति योजना के माध्यम से भारतीय सरकार भारत के गरीब असहाय छात्रों को पढ़ने के लिए छात्रवृति देती है क्योंकि,ऐसे छात्र पढ़ने मे होनहार होते हैं

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

परन्तु अपनी आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण अपनी पढ़ाई को आगे नहीं चला पाते तो ऐसी बच्चों के लिए पोस्ट मैट्रिक छात्रवृति योजना की शुरुआत कि गई है तो आज के इस शानदार पोस्ट पर हम पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना 2023 के बारे मे पूरी तरह जानेंगे। साथ में यह भी जाएंगे कि इस योजना का लाभ कैसे उठाया जा सकता हैं

पोस्ट मैट्रिक छात्रवृति योजना की पूरी जानकारी 2023

पोस्ट मैट्रिक का क्या अर्थ है

अगर सरल शब्दो मे कहा जाए तो एक पोस्ट मैट्रिक उस छात्र को कहा जाता है। जो पहले से नेशनल, सीनियर सर्टिफिकेट परीक्षा में उपस्थित हो, परन्तु आगे कि पढाई के लिए आवश्यक पासिंग प्राप्त करने के एक से ज्यादा विषयो है परन्तु विषयों को दोहराना चाहता है।

पोस्ट मैट्रिक छात्रवृति योजना

क्या है पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप

यह एक प्रकार का भारत सरकार के द्वारा चलाए जाना वाला सरकारी योजना है जिसके अनुसार भारत के अल्पसंख्यक और आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों को धनराशि की सहायता दी जाती है इस योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि भारत के गरीब होनहार बच्चों को पढ़ने के लिए अवसर प्रदान कराना है जिससे कोई भी छात्र पैसे कि कमी होने के कारण अपना पढ़ाई ना छोड़े। तथा इस योजना के तहत प्राप्त धनराशि से छात्र अपनी दैनिक जरूरते जैसे शुल्क, किताबे और अन्य शैक्षणिक खर्चों को कुछ हद तक कम कर लेते हैं

पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति के लिए आवश्यक शर्त

इस योजना मे छात्रों को छात्रवृत्ति पॉलिटेक्नीक, ITI और अन्य कोर्स के साथ 11 वीं और 12वीं कक्षा मे अध्ययनरत छात्रो को प्रदान होगी

छात्र की आयु 18 साल पुरा हो जानें के बाद एक सत्यापित जाति प्रमाणपत्र होना चाहिए

अभिभावक का आय प्रमाण पत्र होना चाहिए

अध्ययन कर रहे कोर्स के दूसरे साल मे छात्रवृति प्राप्त करने के लिए पहले सत्र में 50% अंक होने चाहिए

एक परिवार से दो से अधिक छात्रो को छात्रवृत्ति नही प्रदान की जाएगी

छात्रवृति प्राप्त करने के लिए छात्र को नियमित कक्षा मे उपस्थित होना चाहिए

यदि पढ़ाई के दौरान छात्र अपना स्कूल बदलता है तो उसे छात्रवृत्ति का लाभ नही होगा

यदि छात्र के द्वारा स्कूली नियमों का पालन नही किया जाएगा तो उसे स्कॉलरशिप नही दिया जाएगा

ट्युशन शूल्क और रखरखात भत्ता सीधे छात्र के खाते में ट्रांसफर किया जाएगा

इस योजना के माध्यम से लाभ प्राप्त करने वाले छात्र को अन्य किसी छात्रवृत्ति का लाभ प्राप्त नहीं होगा

 

आवश्यक दस्तावेज

छात्र का आधार कार्ड

अभिभावक का आय प्रमाण पत्र

जाति प्रमाण पत्र

खाता नंबर और IFSC कोड

पासपोर्ट साइज फोटो

Mp rojgar panjiyan 

बिहार पोस्ट मैट्रिक छात्रवृति

इस योजना के माध्यम से वैसे छात्रों को लाभ होगा जो आर्थिक रूप से कमजोर है और जो 10वीं कक्षा पास कर चुके है साथ ही पोस्ट मैट्रिक करना चाहते है इस योजा के माध्यम से बिहार में अनुसूचित जाति जनजाति और पिछड़े तथा अन्यंत पिछड़े वर्ग के कई छात्रो को इस योजना का लाभ हो सकता है।

 

बिहार पोस्ट मैट्रिक छात्र‌वृत्ति के लिए योग्यता

छात्र को 10वीं कक्षा मे उतीर्ण होना चाहिए

छात्र को बिहार का नागरिक होना चाहिए

छात्र को SC, ST OBC का होना चाहिए

इस योजना का लाभ छात्र और छात्रा दोनों ही उठा सकते है

 

बिहार पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप के लिए आवश्यक दस्तावेज

आधार कार्ड

10वी. का मार्कशीट

शुल्क की पर्ची

आयु प्रमाण पत्र

जाति प्रमाण पत्र

निवास प्रमाण पत्र

मोबाइल नंबर

पासपोर्ट साइज फोटो

जन्म प्रमाण पत्र

 

राजस्थान पोस्ट मैट्रिक छात्रवृति

राजस्थान कि राज्य सरकार ने राज्य के मेधावी छात्रों के लिए इस योजना की शुरुवात की है। जिसके तहत छात्रों को 10 वीं कक्षा के आधार पर आगे कि पढ़ाई करने के लिए छात्रवृत्ति दी जाएगी इस योजना का लाभ अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति तथा पिछड़ा वर्ग के छात्र इसका लाभ उठा सकते हैं।

 

राजस्थान पोस्ट मैट्रिक छात्रवृति के लिए आवश्यक दस्तावेज

आधार कार्ड

खाता नंबर

शुल्क की रसीद

10 वी का मार्कशीट

जाति प्रमाण पत्र

निवास प्रमाण पत्र

जन्म प्रमाण पत्र

 

राजस्थान पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति के लिए पात्रता छात्र को 10वी पास होना चाहिए

राजस्थान का स्थायी निवासी होना चाहिए

आवेदक को अनुसूचित जाति पिछड़ा वर्ग का होना चाहिए

 

1) बिहार सरकार छात्रवृति 2023 क्या है

उत्तर: यह एक सरकारी योजना है जिसमे 10वी पास छात्र को धनरारी दी जाती हैं जिसमे प्रथम श्रेणी के लिए 10 हजार और द्वितीय श्रेणी प्राप्त छात्रा को 8 हजार की राशि प्रदान की जाती है।

 

2) बिहार पारेट मैट्रिक स्कॉलरशिप में कितना पैसा मिलगेट उत्तर – 25 हजार

3) Post मैट्रिक छात्रवृत्ति क्या है

उत्तर – यह एक शिक्षा विभाग द्वारा चलाया गया एक योजना है जिसमे अनुसूचित जाति, जनजाति और पिछड़ा वर्ग के छात्रों को 10वी. के बाद छात्रवृत्ति दी जाती है।