स्वामी बाबा रामदेव का जीवन परिचय ll Baba Ramdev Biography in hindi ll Net worth,House,wife,age Yoga

तो दोस्तो आज के इस मजेदार पोस्ट पर हम आपकों स्वामी बाबा रामदेव का जीवन परिचय को पूरी तरह बताएंगे तो चलिए शुरु करते हैं बीना किसी देरी के

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

स्वामी बाबा रामदेव का जीवन परिचय ll Baba Ramdev Biography in hindi ll Net worth,House,wife,age Yoga

बाबा रामदेव कौन है

योग के गुरू कहे जाने वाले बाबा रामदेव आज समूचे भारत मे अपनी छवि स्थापित कर चुके है इन्होंने ने ही भारत मे स्वदेशी वस्तुओं को अपनाने कि शुरुआत की थी और लोगो को इनके महत्व को समझा था जिससे स्वदेशी अपनाने कि लहर चल पड़ी थी बाबा रामदेव ने समय-समय पर देश मे स्वाभिमान और भष्टाचार के आवाज बुलंद की है

बाबा रामदेव ने पंतजलि के माध्यम से घरो मे इस्तेमाल होने वाली जरूरत कि.चीजो का उत्पादन शुरू किया, जिससे लोग विदेशी वस्तुओं के बदले मे स्वदेशी वस्तुओं को अपनाने लगे।

 

बाबा रामदेव एक कुशल बिजनेसमैन 

बाबा रामदेव एक अच्छे व्यापारी भी है बाबा रामदेव ने हरिद्वार मे पंतजलि योगपीठ और पतंजलि आयुर्वेदिक लिमिटेड राम की दो संस्थाए स्थापित की जिसमें पंतजलि योगपीठ लोगों को योग सिखाने का काम करती है जिसका समर्थन देश के महान हस्तियां अमिताभ बच्चन और शिल्पा शेट्टी करते हैं तो वही पतंजलि आयुर्वेदिक लिमिटेड लोगो की जरुरतो का सामान बनाती है जोकि पुरी तरह स्वदेशी होती है तो आज हम आपको स्वामी बाबा रामदेव का जीवन परिचय में बताएँगे पुरे विस्तारपूर्वक

स्वामी बाबा रामदेव का जीवन परिचय

 

स्वामी रामदेव का जन्म एवं परिवार 

बाबा जी का शुरुआती नाम रामकृष्ण यादव था और इन्होने सन्यासी बनने के बाद अपना नाम स्वामी रामदेव रख लिया। इनके पिता जी का नाम रामनीवास यादल और माता जी का नाम गुलाब देवी है इनके एक छोटे भाई और एक छोटी बहन भी है जिसमे भाई का नाम स्वामी भरतभूषण और बहन का नाम स्वामिनी पूर्णप्रक्षा है वे भी इन्ही की तरह योग और आयुर्वेदिक क्षेत्र में अपना योगदान देते है। 

 

बाबा रामदेव कि शिक्षा

रामदेव बाबा ने अपनी पढ़ाई ज्यादा तो नही लेकिन आठवीं कक्षा तक पुरी कि थी और आगे कि पढाई के छोड़ दिया परन्तु अलग-अलग गुरुकूल और आश्रमों मे जाकर भारतीय धर्म, ग्रंथ और वेदों कि जानकारीयाँ प्राप्त कि। ये बाबा जी हरियाणा के खानपुर गाँव मे एक आश्रम मे रहने के समय वहां के लोगो को मुफ्त मे योग कि शिक्षा दिया करते थे लेकिन कुछ समय के बाद वे हरिद्वार चले गए जहाँ पर उन्होंने कांगरी विश्वविद्यालय मे प्राचीन भारतीय शास्त्र का ज्ञान कई सालों तक प्राप्त किया।

 

दिव्य योग्यपीठ ट्रस्ट 

इस ट्रस्ट की स्थापना रामदेव बाबा जी ने सन् 1995 ई0 में किया था जिसमे इनके प्रोग्राम को आस्था चैनल पर सुबह पांच बजे प्रसारित किया जाता है जिसकी सहायता से देश ही नही बल्कि विदेशों मे भी लोग घर बैठे योग सिखते है इस ट्रस्ट का हेड ऑफिस हरिद्वार के कृपालु बाग आश्रम में स्थित है जहां से बाबा रामदेव ने योग की शिक्षा प्राप्त की थी।

पंतजलि योगपीठ आयुर्वेद

यह एक ऐसी संस्थान है जहाँ पर योग और आयुर्वेद के साथ ज्ञान भी दिलाया जाता है। भारत मे इस संस्थान के दो संस्थान है

1) पतंजलि योग पीठ

2) पंतजलि योगपीठ

 

पंतजलि आयुर्वेद कि शुरुआत रामदेव और बालकृष्ण जी ने हरिद्वार से 2008 में की भी और 2016 तक आते आते इसका टर्नओवर 45 करोड़ के पार हो चुका है इस पतंजलि कंपनी के आने से विदेशी कंपनीयो का काफ़ी ज्यादा नुकसान हुआ खासकर कोलगेट और डाबर इससे काफी ज्यादा प्रभावित हुई। पंतजलि भारत मे राशन कि सामान, चॉकलेट, बिस्कुट, शेंम्पू, आचार पापड़ और सौंदर्य कि सभी वस्तु जैसी चीजों को बेचा करती है

बाबा जी का कहनाम था कि हमारे देश मे विदेशी कंपनी आकर खुद मुनाफा कमाती है और देश को आर्थिक रूप से कमजोर बना देती है हमारे देश का पैसा देश मे ही रहना चाहिए अब चलिए जानते है स्वामी रामदेव स्वामी बाबा रामदेव का जीवन परिचय मे पतंजलि चिकित्सालय को

 

पतंजलि चिकित्सालय 

इस चिकित्सालय में वैध बैठते हैं जोकि आयुर्वेदिक दवाइयाँ देते है जिससे बड़ी सी बड़ी बिमारीयो का इलाज हो जाता है।

 

बाबा का राजनितिक कैम्पेन 

शुरुआती समय में बाबा ने स्वाभिमान पार्टी बनाया लेकिन 2014 के बाद वे नरेन्द्र मोदी के प्रधानमंत्री कैम्पेन में जुड़ गए और उनका समर्थन करने लगे साथ ही इन्होने 2011 मे भारत को भ्रष्टाचार मुक्त करने और जन लोकपाल बिल को लागू करवाने के लिए रामलीला मैदान में अनशन किया था जिसका प्रभाव इतना पड़ा कि सरकार को भ्रष्टाचार मुक्त करने के लिए एक कमिटी का गठन करना पड़ा।

 

बाबाजी का नेटवर्थ 

रामदेव बाबा कि मासिक इनकम 50 लाख रुपाए है और 5 करोड़ रुपए वार्षिक इनकम है इस हिसाब से इसकी कुल संपत्ति लगभग 1400 करोड से ऊपर की है।

 

रामदेव बाबा का सम्मान

इन्हे प्राप्त सम्मान कि सूची इस प्रकार है

2007 मे भुवनेश्वर के कलिंगा यूनिवर्सिटी के द्वारा डोक्टरेट की उपाधि दी गई

2011 मे महाराष्ट्र सरकार के द्वारा सम्मानित किया गया

2015 में हरियाणा सरकार ने उन्हें योगा और आयुर्वेद का ब्रांड एम्बेसडर बनाया

 

स्वामी बाबा रामदेव का जीवन परिचय में कुछ अन्य प्रश्न ( FAQ)

1) बाबा रामदेव जी के असली पिता कौन थे?

उत्तर : रामनिवास बाबा

2) रामदेव जी कौन से वंश के थे

उत्तर : तोमर वंश

3)रामदेव का दूसरा नाम क्या है 

उत्तर: रामकृष्ण यादव

4) बाबा रामदेव की शिक्षा कितनी है? 

उत्तर : आठवी तक उसके बाद योग, धर्म, ग्रंथ की शिक्षा प्राप्त की

Read more

धीरेंद्र शास्त्री का जीवन परिचय

प्रेमानंद महाराज का जीवन परिचय