Mukhyanantri Bal Sewa Yojana 2023 – online registration

हमारे देश में वैश्विक महामारी कोरोना कि वजह से लोगो को कई प्रकार कि चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है देश मे कई ऐसे भी बच्चे है जिनके माता-पिता कि मृत्यु इस कोरोना वायरस के कारण हो चुकी है जिसमें केवल U.P में ही 197 ऐसे बच्चों को चिन्हित किया गया है जिनके माता-पिता अब यहा नही रहे। तो इन सभी बच्चो कि उज्ज्वल भविष्य के लिए सरकार ने एक mukhyanantri bal sewa yojana चलाई है

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

जिसक तहत इन बच्चो को आर्थिक सहायता प्रदान कराकर उन्हें सशक्त बनाया जाएगा तो आज के इस पोस्ट पर हम Mukhymantri bal sewa Yojana के बारे मे पुरी तरह से जानेगें

Mukhyanantri Bal Sewa Yojana 2023 – online registration

क्या है Mukhyamantri Bal sewa Yojana

इस योजना कि शुरुआत उत्तर प्रदेश में किया गया था जिसके तरह राज्य उन असहाय बच्चों कि मदद सरकार करेगी जिनके अभिभावक कि मृत्यु कोरोना वायरस के कारण हुई थी और इस योजना कि शुरुआत योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा 30 मई 2021 को किया गया था। इस योजना के माध्यम से बच्चो को आर्थिक सहायता के साथ-साथ उनके पढ़ाई तक के खर्चों को सरकार देगी। और वित्तिय सहायता के रूप मे 4000 रुपए कि धनराशि दी जाएगी।

इन सबो के अलावा अगर बच्चे कि आयु 10 साल से कम है और उनके कोई अभिभावक नहीं है तो उन्हें सरकारी बाल गृह में रखा जाएगा और उन्हें शसक्त बनाया जाएगा, तथा स्कूल और विश्वविद्यालयों मे अध्यनन करने वाले छात्रो को एक लैपटॉप भी प्रदान किया जाएगा

mukhyanantri bal sewa yojana

योजना का नाम mukhyanantri bal sewa yojana
किसने शुरू किया योगी आदित्य नाथ जी
कब शुरू हुआ 30 मई 2021
राज्य उत्तर प्रदेश
लाभार्थी up के अनाथ लड़के
आवेदन का प्रकार ऑफलाइन [ लेकिन अनलाइन शुरू होने वाला है ]
उद्देश्य अनाथ बच्चों को आर्थिक सहायता देना
कितना आर्थिक सहायता 4000/माह

लाभ

  • इस mukyamantri bal sewa yojana से होने वाली लाभों कि सुची कुछ इस प्रकार हैं
  • योजना के द्वारा उन बच्चों को मदद मिलेगा जिनके माता-पिता की मृत्यु कोरोना वायरस के कारण हुई है
  • इस योजना में बच्चो को आर्थिक सहायता से लेकर शिक्षा और शादी का भी पूरा खर्च उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा किया जाएगा
  • सभी बच्चों को भरन-पोषण के लिए प्रति माह 4000 रू कि. आर्थिक सहायता मिलेगी
  • लड़कियों कि शादी के लिए पैसे दिए जाएंगे
  • 10 साल से कम उम्र के बच्चे के अभिभाव के नही होने की स्थिति में सरकारी आवासीय सुविधा भी प्रदान होगा
  • इस योजना को राजकीय बाल गृह के द्वारा प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से अध्ययन करने वाले बच्चो को लैपटॉप भी दिया जाएगा
  • वैसे बच्चो का लाभ मिलेगा जिनके माता पिता कि मृत्यु कोरोना के चलते हुए हैं।

उद्देश्य

मुख्यमंत्री बाल सेवा का मुख्य उद्देश्य उन बच्चों को आर्थिक सहायता देना है जिनके माता- पिता की मृत्यु कोरोना के कारण हो गई है इसमें वित्तीय सहायता प्रदान किया जाएगा जिसके कारण वे अपना भरण-पोषण कर सकेंगे और वे किसी दूसरे पर निर्भर नही होगें क्योंकि उन बच्चों कि पुरी जिम्मेदारी उत्तर प्रदेश कि राज्य सरकार उठाएगी इस योजना के माध्यम से वित्तीय सहायता के साथ-साथ आवास और विवाह के लिए सहायता प्रदान कराइ जाएगी

 

मुख्तमंत्री बाल सेवा योजना के लिए पात्रता

  • लाभार्थी को उत्तर प्रदेश का निवासी होना चाहिए
  • आवेदक बच्चे कि अभिभावक की मृत्यु कोरोना के कारण हुई हो
  • वैसे बच्चे जो अपने माता-पिता खो दिए है जोकि कोरोना के काल मे पैसा कमा रहे थे
  • बच्चा का उम्र 18 या उससे कम होना चाहिए
  • वर्तमान मे जीवित माता- पिता की सालाना आया 200000 या उससे कम होना चाहिए

 

यूपी मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना 2023 के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • बच्चे का प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • माता- पिता की मृत्यु का प्रमाण
  • उत्तर प्रदेश के अधिवास की घोषणा
  • शैक्षणिक संस्थान मे पंजीकरण का प्रमाण पत्र
  • अभिभावक के मृत्यु प्रमाण पत्र
  • कोडिङ-19 मे मृत्यु का प्रमाण पत्र
  • वैध्य आयु प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • उम्र का सबूत

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के लिए जारी दिशानिर्देश

  • इस योजना के तहत बच्चो को केन्द्रिय विद्यालय मे शिक्षा प्रदान किया जाएगा
  • 18 वर्ष तक बच्चों को आर्थिक सहायता के रूप में मासिक धनराशि प्रदान कि जाएगी
  • इस राशि को प्राप्त करने के लिए केन्द्र सरकार के द्वारा बच्चो का खाता खुलवाया जाएगा जिसमे बच्चो का पैसा सीधे उनके खाते में जाएगा।
  • इस योजना का लाभ उठाने वाले सभी बच्चो को आयुष्मान भारत योजना के तहत स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जाएगा
  • आयु होने तक बीमा के प्रीमियम की राशि का भुगतान सरकार द्वारा पीएम केयर्स के द्वारा किया
  • जाएगा

Mukhyamantri Bal sewa Yojana में आवेदन कैसे करे

  • Step.1 अगर आप ग्रामीण क्षेत्र में निवास करते है तो उसके लिए ग्राम विकास अधिकारी या जिला प्रोबेशन अधिकारी के कार्यालय में जाना होगा या फिर शहरी क्षेत्र में रहते है तो लेखपाल, तहसील या जिला प्रोबेशन कार्यालय में जाना होगा
  • Step.2 कार्यालय में आवेदन पत्र प्राप्त होगा
  • Step.3 इस आवेदन में मांगी गई सभी जानकारी भर दें जैसे-नाम मोबाईलनंबर, , ईमेल आइडी आदि।
  • Step.4 इस योजना के लिए आवेदन पत्र में मांगे गए सभी दस्तावेज को लगा दे
  • Step.5 फिर इस आवेदन पत्र को कार्यालय में जमा कर दे और इस प्रकार आपका आवेदन पुरा हो जाएगा
  • Step.6 फिर आगे जिला बाल संरक्षण इकाई एवं बाल कल्याण समिति पात्र बच्चों को चयन करके प्रक्रिया को पूरा करेगा
  • Step.7 अप्रूवल हो जाने पर लाभुक को लाभ मिलने लगेगा।

योजना के लिए एमआईएस पोर्टल लांच

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि यूपी राज्य सरकार ने अनाथ बच्चो को आर्थिक सहायता प्रदान कराने के लिए मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की शुरुआत की है जिसके लिए आवेदन करने हेतु जमीनी स्तर पर किय कार्य किया जा रहा है लेकिन अब सरकार ने इस योजना के लिए एमआईएस पोर्टल शुरू किया है एमआईएस पोर्टल मे दो तरह की जानकारी प्राप्त होगी जिसमे निरीक्षक को मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के महिलाओं एवं बच्चों की लाभार्थीया की जानकारी होगी।

FAQ

1) उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना कब शुरू हुई

उत्तर : 30 मई 2021

2) बाल सेवा योजना क्या है up?

उत्तर : इस योजना के माध्यम से वैसे अनाथ बच्चो का भरण पोषण से।लेकर पढ़ाई और विवाह पर सहायता किया जाता है जिन्होंने कोराना से अपने माता-पिता को खो दिए है

इन्हें भी पढ़ें (केवल आपके लिए)

एमपी मुख्यमंत्री जन आवास योजना

झारखंड की प्रमुख योजनाएं 2023

Jharkhand की प्रमुख योजनाएं

गांव संबंधी सरकारी योजनाओं